Share market for beginners 1 ( हिंदी में )

0
679
Share market for beginners

Share market for beginners

जो share market सीखना चाहते है , उनके लिए ये सीरीज डेडिकेटेड है । ये 5 ब्लॉग की सीरीज है जिसमे रोज़ आप शेयर मार्केट की terms के बारे में जानेंगे । ये सीरीज उन लोगो के लिए है जो सचमुच ज़िन्दगी में बड़ा करना चाहते है, क्योंकि निवेश कर के हे आप बड़े बन सकते है , और share market एक ऐसा रास्ता है जो अगर आप सीखते है तो आप बहुत पैसा बना सकते है । बस जरूरत है तो बस आपके सिखने की इच्छा पर । तो share market for beginners 1 में आप जानेंगे शेयर मार्केट क्या है और हम शेयर मार्केट की terms भी समझेंगे।

Share market क्या है

share का मतलब है हिस्सेदारी। जब आप किसी कंपनी में पैसे लगा कर शेयर खरीदते है, तो आप उस कंपनी के हिस्सेदार बन जाते है । जहाँ आप उस कंपनी के प्रॉफिट लोस्स के भागीदार बन जाते है। इस मार्किट की एक खास बात यह भी है कि आप 100 रुपया से भी निवेश शुरू कर सकते है , और जब मर्जी आप स्टॉक बेच भी सकते है। share market में जितना आसान पैसे कामना है , उतना आसान पैसा गवाना भी है। इसलिए बिना सीखे share market में निवेश नही करना। तो चलिए सीखते है share market की terms को।

दिन – stock market का दिन सोमवार से शुक्रवार होता है , इसके अलावा सरकारी छुट्टियों वाले दिन भी stock market बंद रहती है।

Timing
9.00 am to 9.15 am – इस timing को pre opening session भी कहा जाता है । इसके 3 भाग है ।

9.00 to 9.08 am – इस 8 मिनट में आप अपने शेयर के आर्डर खरीद और बेच सकते है। अगर आपको कोई आर्डर बदलना है या आर्डर कैंसिल करना है तो ये session इसी लिए है।

9.08 amto 9.12am – इस सेशन में दिए आर्डर की matching की जाती है, इस सेशन में आप ऑर्डर को कैंसिल या बदल नहीं सकते।

9.12am to 9.15am – इस सेशन को बफर पीरियड भी कहते है।

9.15am to 3.30 -. इस सेशन को normal trading session भी कहते है। इस सेशन में आप कभी भी अपने शेयर खरीद या बेच सकते है । हम ऐसा भी कह है, stock market का सही समय यही है।

3.30 pm to 3.40pm– इस सेशन में closing price की कैलकुलेशन होती है ।


3.40 pm to 4.00pm – इस सेशन को post opening session भी कहा जाता है । इस सेशन में अगर आप शेयर खरीदते या बेचते हो तो आपको closing price पर ही मिलते है।
Pre opening session और post opening session दोनों कैश में ही होते है।

bull-. जब आप मार्किट या किसी शेयर के ऊपर जाने की उम्मीद कर रहे है तो उसे bull market / bullish market भी कहते है। मार्किट bull तब होती है जब खरीदने वाले किसी शेयर को ज्यादा हो, तब मार्किट bullish होती है।

Bear – जब आप किसी शेयर या मार्किट के नीचे जाने की उमीद कर रहे हो , उसे bear market / bearish market कहते है। मार्किट bear तब होती है , जब किसी शेयर को बेचने वाले ज्यादा हो तब मार्किट bear होती है।

Share market for beginners image

Squaring off – आपने कोई शेयर खरीद रखा है आप उसे बेचना चाहते है तो उसे finance ki language में squaring off कहते है आसान भाषा में कहु तो आप किसी शेयर से exit लेना भी कह सकते है।

Crash – किसी न्यूज़ , इवेंट , आपदा या रिजल्ट की वजह से मार्किट गिर जाती है उसे crash कहते है।

Bonus share -. कुछ कंपनी अपने shareholder को गिफ्ट में bonus में share दे देती है , जिन्होंने उनके शेयर लंबे समय के लिए होल्ड कर के रखे होते है ।

Dividend – कंपनी जब अपने प्रॉफिट का कुछ हिस्सा shareholder को दे , उसे dividend कहते है। कुछ कंपनी अपने shareholder को फ्री में कैश या stock देती है , अगर कंपनी कैश देती है , तो उसे cash dividend कहेंगे, अगर कंपनी फ्री में stock देती है तो उसे stock dividend कहेंगे।
हर कंपनी dividend दे ये जरूरी नहीं होता , ये कंपनी की मैनेजमेंट का फैसला होता है , की वो आपको dividend देना चाहती है या नहीं । चाहे तो वो अपना पैसा बचा कर अपने बिज़नस पर भी लगा सकती है।

Intraday – जब आप 9.15am बजे से 3.30 बजे के बीच में शेयर को खरीद कर बेच देते है उसे intraday कहते है ।

Dilivery– यदि आज अपने कोई शेयर जितनी मर्जी quantity हो , उसे कल के बाद बेचते हो दो दिन,6 महीने , 1 साल या जब भी बेचते हो उसे dilivery कहते है।

IPO – इसे initial public offering भी कहते है । जब कोई कंपनी पहली बार stock exchange में listed होती है , और पब्लिक को ऑफर करती है , हमारी कंपनी के शेयर खरीद लो उसे ipo कहा जाता है।

Stock exchange – जहा शेयर को ख़रीदा बेचा जाता है , उसे stock exchange कहते है । इंडिया में दो मुख़्य दो stock exchange है। BSE and NSE

BSE -. Bombay stock exchange मुम्बई में स्तिथ है। ये दुनिया का 12वा सबसे बड़ा stock exchange है। BSE का इंडेक्स है। sensex

Sensex– सेंसेक्स में top 30 कंपनी है , BSE में 5500 से ज्यादा कंपनी registered है , उनकी मूवमेंट हमे sensex से पता चलती है ।

NSE – national stock exchange जो की दुनिया का 10वा सबसे बड़ा stock exchange है । यहाँ 1600 से भी ज्यादा कम्पनीज है । NSE का इंडेक्स है nifty.

Nifty – nifty में टॉप 50 कंपनी आती है , अगर आपको बैंक,IT, small cap company , mid cap company को ट्रैक करना चाहते है तो आप nifty bank , nifty IT , nifty mid cap ,nifty small cap को देखकर आपको उन कंपनी की स्थिति का अंदाज़ा हो जायेगा ।

धन्यवाद दोस्तों । बाकि share market की terms को हम अपनी share market beginners 2 में समझेंगे। अगर आप मुझसे कोई  mutual fund या किसी इन्वेस्टमेंट से जुडा कोई सवाल है तो आप  मुझे  कमेंट कर सकते है नहीं तो आप मुझे ईमेल wadhwatarun321@gmail.com भी कर सकते है ।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here