Share Market Basics For Beginners 2020 हिंदी में जानिये 3

0
512
Share Market

Share market beginners 3

 शेयर मार्किट की तीसरी सीरीज में आपका स्वागत है , अगर आप share market अच्छे से सीखना चाहते है तो आप मेरी दोनों सीरीज को पढ़ सकते है। अब हम जानेंगे share market
की terms को।

Share holder – कोई अकेला , कारपोरेशन या कोई इंस्टिट्यूशन किसी प्राइवेट या सरकारी कंपनी में एक या एक से ज्यादा शेयर खरीदते है, उसे share holder कहते है।

Broker -. Broker कोई एक व्यक्ति या कोई organisation है , जो स्टॉक एक्सचेंज में रजिस्टर्ड मेंबर होता है । , ये अपने क्लाइंट के behalf पे share market buying और selling कर सकते है, और बदले में ये commision चार्ज करते है।

Bluechip Stocks -. ये reputated कम्पनीज होती है , जो लंबे समय से मार्किट में होती है । ये कम्पनीज fundamentally strong कम्पनीज होती है।ये कम्पनीज बुरे दिनों में भी अच्छे से survive कर जाती है। इनका growth return काफी अच्छा होता है , और इन कम्पनीज में रिस्क भी कम होता है।

Demat और Trading account
Demat account भी बैंक सेविंग अकाउंट की तरह होता है जिस तरह हम बैंक में पैसे रखते है उसी तरह demat account में share रखे जाते है। share की buying और selling trading account में होती है। भारत में demat और trading account है zerodha kite , 5 paisa , kotak securities, upstox आदि

Volatility-. Share का price कितना ऊपर नीचे जाता है , उसे volatility कहते है।

Enterprises Value -. ये बहुत जरूरी concept है, इससे आपको कंपनी की take over का पता चलता है। enterprises value का फार्मूला है
Ev = market cap + debt – cash & cash equivalents

एक उदाहरण से समझते है अगर हम किसी कंपनी को खरीदना चाहते है, तो उस कंपनी के हमे सारे stocks खरीदने होंगे ,कंपनी के सारे loan ,कर्ज़े हमारे होंगे। सारे कर्ज़ों को हमे ही भरना पड़ेगा । इसी तरह कंपनी के कैश और cash equivalents ( जिसे आसानी से कैश में बदला जा सके) भी आपके ही होंगे। enterprises value इसलिए भी जरूरी है क्योंकि इसमें debt भी जोड़े होते है , जिससे हमें सही में कंपनी की हालत का पता चलता है।

Face value – जब कोई कंपनी शुरू होती है , तो कंपनी के owner शेयर का price decide करते है , उसी price को face value कहते है।

Dividend yield -. कोई कंपनी current पर कितना dividend दे रही है उसे dividend yield कहते है।
मान लीजिए कंपनी का current share price 100 रुपए है और कंपनी 5 रुपए dividend दे रही है तो फार्मूला है
Div. Yield= dividend /market price

Bid – bid का मतलब होता है बोली । किसी चीज़ की बोली लगाना । buyer जिस price पर शेयर खरीदना चाहते है, उसे bid कहते है।

Ask -. Ask का मतलब है जिस price पर seller share को बेचना चाहते है , उसे ask कहते है।

Trade -. पुरे दिन में 9.15 am से 3.30pm तक किसी कंपनी के share खरीदे -बेचे गये उसे trade कहते है।

Share market beginners

Previous high – बीते दिन में किसी कंपनी के शेयर या इंडेक्स ने जो ज्यादा price रहा था , उसे हम previous high कहेगे।

Previous low – बीते दिन में किसी कंपनी के शेयर या इंडेक्स का जो low price रहा था , उसे हम previous low कहेगे।

Margin -. आप जो भी demat account प्रयोग करते है, वहाँ आपका ब्रोकर आपको एक लिमिट दे देता है , आपको कुछ एक्स्ट्रा पैसे दे देता है , जिससे आप trading कर सके। ब्रोकर जो पैसे आपको एक्स्ट्रा देता है उसे margin कहते है।

Trade -. पुरे दिन में 9.15 am से 3.30pm तक किसी कंपनी के share जितनी quantity में खरीदे -बेचे गये उसे trade कहते है।

मुझे उमीद है कि आपको share market की अच्छे से समझ आ रही होगी। अगर आप मुझसे share market के बारे में कुछ पूछना चाहते है तो आप मुझे कंमेंट बॉक्स में massage कर सकते है | 

ज्यादा पढने के लिए आप मेरी वेबसाइट https://tarunblogs.com में विजिट करे | 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here