Public Limited Company क्या है? और Public Limited Company के क्या फायदे हैं 

0
255
  • Public Limited Company क्या है? और Public Limited Company के क्या फायदे हैं 

नमस्कार दोस्तों मैं तरुण कुमार आपका एक बार फिर से अपने इस ब्लॉगिंग वेबसाइट पर हार्दिक स्वागत करता हूं। दोस्तों आज मैं आपके लिए एक बार फिर से एक बहुत ही इंटरेस्टिंग टॉपिक पर बात करने वाला हूं। आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से समझेंगे कि पब्लिक लिमिटेड कंपनी क्या है और पब्लिक लिमिटेड कंपनी के फायदे और नुकसान  के बारे में जानेंगे।

 

 अगर हम कोई बिजनेस स्टार्ट करने जा रहे हैं। या फिर हम कोई  स्टार्टअप चालू करने जा रहे हैं। तो सबसे पहले हमें  अपने  बिजनेस या स्टार्टअप के लिए यह समझना बहुत जरूरी होता है कि हमें प्राइवेट लिमिटेड कंपनी स्टार्ट करनी चाहिए या फिर पब्लिक लिमिटेड कंपनी स्टार्ट करनी चाहिए। जैसे कि हमने आपको इसके पहले आर्टिकल में हमने प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के बारे में आपको पूरी जानकारी दी है।

 

 अगर आप भी कोई अपना बिजनेस या स्टार्टअप स्टार्ट करने जा रहे हैं तो आप सबसे पहले इस आर्टिकल को पढ़ लीजिए। इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आप बहुत ही आसानी से समझ जाएंगे कि पब्लिक लिमिटेड कंपनी क्या है और आपको पब्लिक लिमिटेड कंपनी स्टार्ट करनी चाहिए कि नहीं। और साथ में आप यह भी समझ जाएंगे कि पब्लिक लिमिटेड कंपनी के क्या फायदे और क्या नुकसान है।

 

Public Limited Company क्या है? 

 

 सबसे पहले हमें पब्लिक लिमिटेड कंपनी के मतलब को समझना बहुत ही जरूरी है। जब तक आप पब्लिक लिमिटेड कंपनी के कांसेप्ट को नहीं समझेंगे। तब तक आप बिल्कुल नहीं समझ पाएंगे कि पब्लिक लिमिटेड कंपनी क्या है।

 

 पब्लिक लिमिटेड कंपनी में पब्लिक का मतलब  होता है कि इस कंपनी में जनरल पब्लिक भी पार्टिसिपेट कर सकती है। इसका मतलब यह हुआ कि पब्लिक लिमिटेड कंपनी में शेयर होल्डर्स की संख्या बहुत अधिक हो सकती है। या फिर हम यह कहें कि पब्लिक लिमिटेड कंपनी में शेयर होल्डर की संख्या बहुत अधिक होती है। इसीलिए इन कंपनियों को पब्लिक लिमिटेड कंपनी कहते हैं।

 

Public Limited Company के रूल्स क्या है- Rules of Public Limited Company 

 

 अगर आप पब्लिक लिमिटेड कंपनी खोलने की सोच रहे तो सबसे पहले आपको इनके रूल्स मालूम होने बहुत ही जरूरी है। आइए हम आपको इनके कुछ जरूरी रूल्स के बारे में जानकारी देते हैं।

 

 जिस तरह से प्राइवेट लिमिटेड कंपनी में कंपनी एक्ट 2013 लागू होता है। सेम उसी तरह से पब्लिक लिमिटेड कंपनी में भी कंपनी एक्ट 2013 लागू होता है।

 

 पब्लिक लिमिटेड कंपनी में मिनिमम डायरेक्टर की संख्या तीन होती है।

 

 पब्लिक लिमिटेड कंपनी में मिनिमम शेयर होल्डर्स की संख्या साथ होती है।

 

 पब्लिक लिमिटेड कंपनी में मैक्सिमम शेयर होल्डर्स की संख्या की कोई लिमिट नहीं होती है।

 

Public Limited Company  के क्या फायदे हैं- BENIFITS OF PUBLIC LTD COMPANY 

 

 आइए हम आपको पब्लिक लिमिटेड कंपनी के कुछ फायदे के बारे में जानकारी देते हैं।

 

Limited Liability 

 

 पब्लिक लिमिटेड कंपनी में Limited Liability   का मतलब होता है कि शेयर होल्डर्स की Liability  केवल उनके शेयर होल्डिंग तक ही सीमित है।

 

Raise Funds From Public Issues & Debentures 

 

 पब्लिक लिमिटेड कंपनी का दूसरा सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि अगर कंपनी को  एक बड़ा अमाउंट की आवश्यकता है तो वह पब्लिक से पैसा इकट्ठा करके अपने कंपनी के बिजनेस में लगा सकते हैं।

 

Easy Transfer Of Shares 

 

 पब्लिक लिमिटेड कंपनी का एक सबसे बड़ा फायदा यह है कि जब कंपनी स्टॉक एक्सचेंज में लिस्ट हो जाती है तो आप कंपनी के शेयर को आसानी से ट्रांसफर कर सकते हैं। आप इसके माध्यम से शेयर्स को बहुत ही आसानी और जल्दी से खरीद एवं बेच सकते हैं ।

 

High Transparency 

 

 पब्लिक लिमिटेड कंपनी में  शेयर होल्डर्स के लिए High Transparency  होती है। क्योंकि कंपनी समय-समय पर अपनी कंपनी के एनुअल रिपोर्ट  और समय-समय पर अपने शेयर होल्डर्स  को इंफॉर्मेशन प्रोवाइड कराती रहती है।

 

Public Limited Company  के क्या नुकसान है-

 

 अभी हमने आपको प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के फायदे के बारे में बताया है। अब हम आपको प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के क्या नुकसान होते हैं उसके बारे में बताने जा रहे हैं।

 

High Compliances 

 

 प्राइवेट लिमिटेड कंपनी का सबसे बड़ा नुकसान होता है कि इसमें Compliances  बहुत होती है। Compliances  होने की वजह से प्राइवेट लिमिटेड कंपनी में आपको इसको मैनेज करने में बहुत अधिक Expensive उठाना पड़ता है। 

 

Increased Regulatory Oversight 

 

  पब्लिक लिमिटेड कंपनी का सबसे बड़ा नुकसान यह होता है कि इस इस कंपनी में  सेबी  की बहुत अधिक नियम एवं शर्तें होती हैं। पब्लिक लिमिटेड कंपनी में आपको सेबी के सभी नियम एवं शर्तों के अनुसार काम करने होते हैं।

 

Management Control 

 

 पब्लिक लिमिटेड कंपनी में मैनेजमेंट को कंट्रोल करना बहुत ही मुश्किल होता है। क्योंकि पब्लिक लिमिटेड कंपनी में  बोर्ड ऑफ डायरेक्टर के अंदर बहुत सारे डायरेक्टर होते हैं। जिनको मैनेज करने में बहुत अधिक समस्याएं होती हैं।  क्योंकि हमें जब अपनी कंपनी के लिए कोई  फैसला लेना होता है तो हमें इसके लिए सभी डायरेक्टर और बोर्ड ऑफ डायरेक्टर क्या जवाब लेना जरूरी होता है।

 

 प्राइवेट लिमिटेड कंपनी और पब्लिक लिमिटेड कंपनी में क्या अंतर है

 

आप हम आपको प्राइवेट लिमिटेड कंपनी और पब्लिक लिमिटेड कंपनी में क्या अंतर है इसके बारे में विस्तार से जानकारी देते हैं। जिसके बाद आप बहुत ही आसानी से समझ पाएंगे कि प्राइवेट लिमिटेड कंपनी और पब्लिक लिमिटेड कंपनी में क्या अंतर  होता है।

 

अगर आप प्राइवेट लिमिटेड कंपनी खोलना चाहते हैं तो इसके लिए आप को मिनिमम दो लोगों की आवश्यकता पड़ती है। और वही अगर आप पब्लिक लिमिटेड कंपनी खोलना चाहते हैं तो इसके लिए आपको  मिनिमम 7 लोगों की आवश्यकता पड़ती है।

 

  प्राइवेट लिमिटेड कंपनी में  अधिकतम शेयर होल्डर की संख्या 200 होती है। वह पब्लिक लिमिटेड कंपनी में अधिकतम शेयर होल्डर की कोई संख्या नहीं होती है।

 

 प्राइवेट लिमिटेड कंपनी स्टॉक एक्सचेंज में लिस्टेड नहीं होती हैं। वही पब्लिक लिमिटेड कंपनी स्टॉक एक्सचेंज में लिस्टेड होते हैं और स्वतंत्र रूप से अपना काम करते हैं।

 

 प्राइवेट लिमिटेड कंपनी खोलने के लिए आपको मिनिमम दो डायरेक्टर की आवश्यकता होती है । वही पब्लिक लिमिटेड कंपनी खोलने के लिए आप को मिनिमम 3 डायरेक्टर की आवश्यकता होती है।

 

 प्राइवेट लिमिटेड कंपनी में कोई भी फैसला लेने के लिए आपको मीटिंग की आवश्यकता नहीं होती है। वही पब्लिक लिमिटेड कंपनी में आपको कोई भी फैसला लेने से पहले बोर्ड आफ डायरेक्टर और डायरेक्टर की मीटिंग होना आवश्यक है।

 

 पब्लिक लिमिटेड कंपनी में कोई भी शेयर होल्डर स्वतंत्र रूप से अपने शेयर  खरीद एवं बेच सकता है ।  वहीं प्राइवेट लिमिटेड कंपनी में ऐसा करना पॉसिबल नहीं है।

 

 पब्लिक लिमिटेड कंपनी में होने वाला बेनिफिट सरकार और शेयर होल्डर्स को मिलता है। वहीं पर प्राइवेट लिमिटेड कंपनी में होने वाला प्रॉफिट केवल निजी लोगों को भी प्राप्त होता है।

 

 निष्कर्ष

 

 दोस्तों हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से Public Limited Company क्या है? और Public Limited Company के क्या फायदे हैं के बारे में पूरी जानकारी विस्तार से दी है। और साथ में हमने आपको प्राइवेट लिमिटेड कंपनी और पब्लिक लिमिटेड कंपनी में क्या अंतर है इसके बारे में भी जानकारी दी है।

 

 दोस्तों आशा करता हूं कि यह आर्टिकल पढ़ने के बाद आपको पब्लिक लिमिटेड कंपनी क्या होती है  इसके बारे में आपको समझ में आ गया होगा।

आप मुझे you tube पर भी  subscribe कर के मुझे follow कर सकते है |

 दोस्तों अगर आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो आप हमें कमेंट करके अपनी राय अवश्य दें। और साथ में अगर आप बिजनेस रिलेटेड और आर्टिकल पढ़ना चाहते हैं तो आप हमारी इस ब्लॉगिंग वेबसाइट को बुकमार्क अवश्य करें। क्योंकि हम आपके लिए रेगुलर एक वेबसाइट के माध्यम से बिजनेस के रिलेटेड आर्टिकल पब्लिश करते रहते हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here